Home

Pustimarg

पुष्टिमार्ग एक परिचय

पुष्टिमार्ग का अर्थ है अनुग्रह, कृपा। अतः पुष्टिमार्ग कहें अथवा अनुग्रह मार्ग कहें या कृपामार्ग कहें, एक ही बात है। श्री वल्लभाचार्यजी ने श्रीमद्‌ भागवत आधार पर पुष्टिशब्द प्रयुक्त किया है। भागवत स्कन्ध २ अध्याय १० के प्रथम श्लोक में भगवान्‌ श्री कृष्ण की भागवत में वर्णित दस प्रकार की लीलाओं का उल्लेख है, जिनमें से एक लीला पोषणलीला है। वही श्लोक की व्याख्या में पोषणशब्द का अर्थ स्पष्ट किया है

null

Gallery

null

Videos

null

Get In Touch

null